Vyapar Me Vridhi Ke Upay

Vyapar Me Vridhi Ke Upay

Vyapar Me Vridhi Ke Upay , ” Aaaj Ke Yug Mein Bahut Bade Sankhya Mein Log Vyaapaar Mein Lage Hai. Samaanyat Vyaapaar Karane Vaala Pratyek Manushy Apane Vyaapaar Mein Bahut Mehanat Karata Hai Kyonki Use Maaloom Hota Hai Ki Usaki Mehanat, Usaka Samay, Usakee Yojana Par Bhi Usake Vyaapaar ki Tarakki Nirbhar Hai. Isi Liye har vyakti Chaahata Hai Usake Vyaapaar Mein Vrddhi Ho, Use Saphalata Mile Aur Jyotish Ke Upaayo Se Yah Sambhav Hai ki Aapaka Vyaapaar Nirantar Pragati Karata Rahe.

Vyapar Me Vridhi Ke Upay

यहाँ पर हम आपको कुछ व्यापार में वृद्धि के उपाय बता रहे है जो अवश्य ही लाभदायक सिद्ध होंगे । जानिए व्यापार में वृद्धि के उपाय, व्यापार में वृद्धि के टोटके

थोडा सा कच्चा सूत लेकर उसे केसर से रंग कर अपने व्यापारिक स्थल में बांध दें व्यापार बहुत तेजी से बड़ने लगेगा , नौकरी करने वाले व्यक्ति इसे अपनी मेज की दराज / अल्मारी या अपने कार्य सम्बन्धी वस्तु में बांध सकते है ।

आप अपनी जीविका / कार्य क्षेत्र में किसी को अपना आदर्श अवश्य बनायें , उस व्यक्ति की तस्वीर अपने कक्ष में लगायें उस की जीवनी , उसकी शक्तियों / कमजोरियों का बहुत ही ध्यान से अध्धयन करें एक नियत समय में अपने को उस व्यक्ति की उचाई के बराबर लाने की योजना बनायें , रोज कुछ समय आप आँख बंद करके पूरी एकाग्रता से यह ध्यान करें की आप वही व्यक्ति है . किसी भी परिस्थिति में यह सोचिये की यदि आपकी जगह वह होते तो क्या करते और उसी तरह से कार्यों को करने का प्रयत्न करें .निश्चय ही आप अपने अन्दर बहुत बड़ा बदलाव महसूस करेंगे ।

व्यापार में वृद्धि के उपाय

व्यापारिक स्थल के पूजाघर में स्फटिक श्रीयंत्र और एकाक्षी नारियल स्थापित करके प्रतिदिन गुलाब की सुगन्धित अगरबत्ती से पूजा करने से व्यापार में निश्चित सफलता प्राप्त होती है ।

रविवार को किसी साफ बर्तन में गंगाजल लेकर 21 बार गायत्री मन्त्र पड़ते हुए हर बार उस पर फूंक मारे फिर उस गंगा जल को अपने सम्पूर्ण कार्यस्थल पर अपनी मनोकामना बोलते हुए अच्छी तरह से छिड़क दें व्यापार में शुभ समाचार प्राप्त होगें । ऐसा लगातार 7 रविवार को अवश्य करें ।

किसी भी तरह के व्यापारिक पत्र व्यवहार करते समय उस पत्र पर हल्दी /केसर का छीठा अवश्य लगा दें ।

हिजड़ो को वस्त्र एवं रूपए दान में देकर उन्हें प्रसन्न करके उनसे आशीर्वाद स्वरूप एक रुपया ले लें ,उस सिक्के को संभल कर अपनी तिजोरी में किसी डिबिया में रख दें …दिन दूनी रात चौगनी तरक्की प्राप्त करने लगेंगे ।

शवेतार्क मूल ( सफ़ेद आक की जड़ ) को गंगा जल से धोकर ,टीका लगाकर, धूप अगरबत्ती दिखाकर किसी भी शुभ नक्षत्र में चाँदी के ताबीज में सफ़ेद रेशमी डोरे से गले अथवा दहिनी बाजु में धारण करने से अदभुत सफलता प्राप्त होती है ।

व्यापार में वृद्धि के टोटके

होली के पर्व पर एक नए लाल कपडे में लाल गुलाल को बांधकर ( पोटली बना कर ) किसी तश्तरी में अपनी दुकान या घर की तिजोरी में स्थापित करने पर व्यक्ति को जीवन में अपने कार्यों में लगातार लाभ की प्राप्ति होती है , धन का आना लगातार बना रहता है ।

कम से कम 10 ग्राम कपूर और इतनी ही मात्रा में रोली को जलाकर उसकी राख को एक साफ लाल कागज में पुड़िया बनाकर उसे अपनी तिजोरी में रख लें , प्रतिदिन सुबह पूजा के बाद उसको अपनी दोनों आँखों और माथे से लगाकर चूम लें …तिजोरी में सदैव बरकत बनी रहेगी ।

अपनी दुकान को खोलने से पहले या आप खुद जब भी पहुंचे सर्वप्रथम दुकान / व्यापारिक स्थल के दोनों और गंगा जल छिड़क कर ईश्वर का नाम लेते हुए अन्दर प्रवेश करें पूरा दिन उत्साह से बीतेगा ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *